+91-8989540544

Blog

जानिए महा शिवरात्रि महापर्व शिव नवरात्रि महोत्सव के बारे में।

श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में महाशिवरात्रि के पहले शिव नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। इस दौरान पूरे 9 दिन तक महाकाल के दरबार में देवाधिदेव महादेव और माता पार्वती के विवाहोत्सव का उल्लास रहता है। श्री महाकाल महाराज के दरबार में भगवान महाक...Read More

जानिए महा शिवरात्रि महापर्व शिव नवरात्रि महोत्सव के बारे में।

श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में महाशिवरात्रि के पहले शिव नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। इस दौरान पूरे 9 दिन तक महाकाल के दरबार में देवाधिदेव महादेव और माता पार्वती के विवाहोत्सव का उल्लास रहता है। श्री महाकाल महाराज के दरबार में भगवान महाक...Read More

जानिए महाशिवरात्रि महापर्व और शिव नवरात्रि महोत्सव के बारे में।

वर्ष में एक बार ही; श्री महाकालेश्वर भगवान् को हल्दी अर्पित की जाती हैं।" श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में महाशिवरात्रि के पहले शिव नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। इस दौरान पूरे 9 दिन तक महाकाल के दरबार में देवाधिदेव महादेव और माता पार्वती क...Read More

जानिए महाशिवरात्रि महापर्व और शिव नवरात्रि महोत्सव के बारे में।

वर्ष में एक बार ही; श्री महाकालेश्वर भगवान् को हल्दी अर्पित की जाती हैं।" श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में महाशिवरात्रि के पहले शिव नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। इस दौरान पूरे 9 दिन तक महाकाल के दरबार में देवाधिदेव महादेव और माता पार्वती क...Read More

आखिर कुंडली में कैसे बनता है मंगल दोष ???

कुंडली में होने वाला मंगल दोष अत्यधिक प्रभावशाली होता है। कुंडली में मंगल ग्रह की स्थिति व दृष्टी दोनों ही प्रभाव रखते हैं ज्योतिष के अनुसार मंगल दोष का सबसे अधिक प्रभाव किसी मंगली के विवाह सम्बंधों में ही पड़ता हैं। इसलिए जन्मकुंडली मिलान के सम...Read More

वास्तु के हिसाब से कौन-सी दिशा का धन लाभ में सर्वाधिक महत्व है ?

घोड़े की नाल, रसोई घर में बल्ब और स्वास्तिक का रखें ध्यान-वास्तु शास्त्र के अनुसार हमारे घर में वास्तु दोष के लिए कुछ हद तक हम स्वयं जिम्मेदार रहते है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की सुख, शांति व समृद्धि के लिए रसोई घर बहुत ही खास माना गया है। अगर आप...Read More

कौन से है महत्वपूर्ण दिन काल सर्प दोष पूजा के लिए ???

कालसर्प दोष की शांति के ये हैं कुछ खास दिन ? कालसर्प दोष इस दोष के निवारण के लिए कालसर्प दोष पूजा करवाई जाती है। वैसे तो यह पूजा नासिक (त्रयंबकेश्वर) और उज्जैन (महाकाल) में वर्ष में कभी भी करवाई जा सकती है, लेकिन यदि कुछ विशेष तिथि, नक्षत्र, दिन और...Read More

जानिए मंगल दोष के बारे में संपूर्ण जानकारी

मंगल ग्रह और हम कुछ 8000 भारतीयों ने मार्स वन मिशन के लिये सवेच्छा से खुद का नामांकन किया हे । इस प्रबन्ध के अनुसार वे मार्स (मंगल ग्रह) पर जाकर रह पायेंगे । हम मंगल के प्रति कुछ ज़्यादा ही संवेदनशील क्यूं हैं? मंगल ग्रह भारतीय विवाह मैं इतनी मेहतव...Read More

कालसर्प योग से राहत के सरलतम उपाय एवं मंत्र... 

यदि जन्म पत्रिका नहीं हो तथा जीवन में निम्नलिखित समस्याओं में से कोई एक भी हो तो वे अपने आपको कालसर्प दोष से पीड़ित समझें तथा उपाय करें।   1. मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त    2. व्यवसाय में हानि बार-बार होना।     3. अपनों से ठगा जाना।    4. अकारण कलंकित...Read More

क्‍या है मांगलिक दोष ???

क्‍या है मांगलिक दोष ? ज्‍योतिषानुसार जन्‍मकुंडली में मंगल दोष को मांगलिक दोष भी कहा जाता है। कुंडली में मंगल की स्थिति के आधार पर मांगलिक दोष निर्भर करता है। कुंडली में मांगलिक दोष है यह जानकर ही लोग घबरा जाते हैं क्‍योंकि इसका प्रभाव वैवाहिक जीवन ...Read More

कौन से हैं कालसर्प दोष की शांति के लिए खास दिन ?

इस दोष के निवारण के लिए कालसर्प दोष पूजा करवाई जाती है। वैसे तो यह पूजा नासिक (त्रयंबकेश्वर) और उज्जैन (महाकाल) में वर्ष में कभी भी करवाई जा सकती है, लेकिन यदि कुछ विशेष तिथि, नक्षत्र, दिन और पर्वों पर करवाई जाए तो दोष का संपूर्ण निवारण हो जाता है।...Read More

क्या है मंगल दोष और मांगलिक दोष पूजा ???

मंगल दोष पूजा= ज्योतिष के अनुसार कुंडली में कई दोष ऐसे होते हैं जो जातक की ज़िन्दगी पर काफी असर करते हैं। इन्ही दोषो में से एक है मंगल दोष।  जिन लोगों की कुंडली में मंगल दोष होता हैं उनके विवाह में बहुत परेशानियां आती हैं। मंगल दोष पूजा से मंगल दोष...Read More

केसे पता करे कि कालसर्प दोष है के नही ??

यदि जन्म पत्रिका नहीं हो तथा जीवन में निम्नलिखित समस्याओं में से कोई एक भी हो तो वे अपने आपको कालसर्प दोष से पीड़ित समझें तथा उपाय करें??? 1.मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त नहीं होता। 2. व्यवसाय में हानि बार-बार होना। 3. अपनों से ठगा जाना। 4. अकारण कल...Read More

काल भैरव के मदिरापान के पीछे क्या राज है???

काल भैरव का यह मंदिर लगभग 6000 साल पुराना माना जाता है ,यह एक तांत्रिक मंदिर है इस मंदिर को वाम मार्गी मंदिर भी मांन सकते हो ऐसे मंदिरों में मांस मदिरा बली मुद्रा जैसे प्रसाद चढ़ाये जाते हैं, पुराने समय में यहां पर सिर्फ तांत्रिकों ही आने की अनुमति ...Read More

जानिए उज्जैन के प्रसिद्ध गोपाल मंदिर के बारे में ????

गोपाल मंदिर उज्जैन का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर है ,इस मंदिर का निर्माण दौलतराव सिंधिया की धर्मपत्नी वायजा बाई ने संवत 1901 में कराया था इस मंदिर में प्रवेश द्वार चांदी का बना हुआ है ,जो एक अलग ही आकर्षण का केंद्र रहता है। मंदिर में दाखिल होते से ही गहन...Read More

जानिए बाबा महाकाल उज्जैन के बारे में ??

सन 1690 ईसवी में मराठों ने मालवा क्षेत्र में आक्रमण कर दिया और 29 नवंबर 1728 को मराठा शासकों ने मालवा क्षेत्र में अपना अधिपत्य स्थापित कर लिया! इसके बाद ही उज्जैन का खोया हुआ गौरव वापस स्थापित हो सका ,सन 1631 से 1809 तक यह नगरी मालवा की राजधानी बनी ...Read More

क्यों आती है इतनी भारी संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ उज्जैन के शनि मंदिर पर??

यहां पर हर अमावस्या को लोग स्नान करने आते है, मध्य प्रदेश की धार्मिक राजधानी उज्जैन को मंदिरों की नगरी भी कहा जाता है ,उज्जैन से सांवेर जाते समय बीच में शनि मंदिर का स्थान है यह प्रमुख दर्शनीय स्थल है! इस मंदिर की सबसे बड़ी बात यह है कि यहां शनि देव...Read More

क्यों करते हैं उज्जैन में सिद्धवट वृक्ष की पूजा ??

सिद्धवट पर तीन तरह की सिद्धि प्राप्त होने के लिए पूजा होती है !एक संतति अर्थात पुत्र दूसरी संपत्ति अर्थात लक्ष्मी तीसरी सद्गति इसका मतलब पितरों (पूर्वजों) के लिए अनुष्ठान किया जाता है.! जय वृक्ष तीन तरह की सिद्धि देता है इसलिए भी इसे सिद्ध पीठ कहा ज...Read More

जानिऐ उज्जैन के प्रसिद्ध शक्तिपीठ हरसिद्धि माता मंदिर के बारे में ?

मध्य प्रदेश के उज्जैन का प्रसिद्ध शक्तिपीठ हर सिद्धि माता मंदिर महाकाल ज्योतिर्लिंग मंदिर के पास ही स्तिथ है | यह 51 शक्तिपीठो में से एक है और इस मंदिर को हर सिद्धि माता के नाम से भी जाना जाता है | इस मंदिर में माँ काली की मूरत के दाये बांये माँ लक्...Read More

किस तरह से करें घर में मंगल की पूजा जानिए होगा मंगल दोष दूर????

मंगलवार के दिन को मंगल ग्रह का दिन माना गया है!  मंगलवार के दिन व्रत रखें पूजा करें तो अति उत्तम रहता है, मंगलवार के दिन सूर्योदय से पहले उठकर निवृत्त होकर तन मन को स्वच्छ करके,लाल कलर के नए कपड़े पहन कर मंडप में उत्तर दिशा की ओर मुंह करके बैठ जाएं ...Read More

जानिए क्या है कालसर्प दोष निवारण के उपाय.??

1. नाग-नागिन का जोड़ा चांदी का बनवाकर पूजन कर जल में बहाएं। 2. नारियल पर ऐसा ही जोड़ा बनाकर मौली से लपेटकर जल में बहाएं। 3. सपेरे से नाग या जोड़ा पैसे देकर जंगल में स्वतंत्र करें। 4. किसी ऐसे शिव मंदिर में, जहां शिवजी पर नाग नहीं हों, वहां ...Read More

धनतेरस के दिन कैसे करें मां लक्ष्‍मी की पूजा ???

धनतेरस के दिन प्रदोष काल में मां लक्ष्‍मी की पूजा करनी चाहिए. इस दिन मां लक्ष्‍मी के साथ महालक्ष्‍मी यंत्र की  पूजा     भी  की जाती है.    धनतेरस पर इस तरह करें मां लक्ष्‍मी की पूजा: -  सबसे पहले एक लाल रंग का आसन बिछाएं और इसके बीचों बीच मुट्ठी भर...Read More

जानिए सांदीपनि आश्रम उज्जैन के बारे में ?

श्री महर्षि सांदीपनी आश्रम शीप्रा नदी पर स्थित गंगा घाट के समीप स्थित है ,और महाकालेश्वर मंदिर से 7 किलोमीटर की दुरी पर है। भगवान श्रीकृष्ण एवं उनकेसखा सुदामा ने यहां पर महर्षि सांदीपनी जी से शिक्षा ग्रहण कि थी। उस समय तक्षशिला तथा नालंदा की तरह अ...Read More

क्यों है उज्जैन में मंगल पूजा का महत्व ?

उज्जैन को पुराणों में मंगल की जननी कहा जाता है. ऐसे व्यक्ति जिनकी कुंडली में मंगल भारी रहता है,वे अपने अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए मंगलनाथ मंदिर में पूजा-पाठ करवाने आते हैं. मंगल दोष एक ऐसी स्थिति है, जो जिस किसी जातक की कुंडली में बन जाये तो उसे...Read More

Request a callback